Friday, 6 July 2012

पुहुप वास से पातरा, ऐसा तत्व अनूप ।

 (1)
बेशर्म
अपने अपने धर्म को -
मानते हैं सर्वश्रेष्ठ -
खुद नहीं पालन करते एक भी तत्व ।
पर झोंक देते हैं सर्वस्व--
दूसरे के धर्म को 
नीचा दिखाने में ।

(2)
कण कण में भगवान् ।
नहीं कण कण भी भगवान् ।
बू आती है साम्प्रदायिकता की ।
थू थू -



Monday, 2 July 2012

प्रतापगढ़ की रिपोर्ट -


पहले एक नाबालिग के साथ
तीन दिनों तक एक समुदाय द्वारा
बलात्कार फिर हत्या ।
दूसरे समुदाय की प्रतिक्रिया और कई घर जला दिए गए -
सरकारी सहायता पहले समुदाय को ।
जय जय अखिलेश मियां ।।